HelloDharNews

HelloDharNews Hindi news Website, Daily Public News, political, crime,filmy, Media News,Helth News

Breaking

Wednesday, 4 April 2018

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित बीजेपी और एनडीए सांसद नहीं लेंगे बजट सत्र के बाधित 23 दिनों का वेतन

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित बीजेपी और एनडीए सांसद नहीं लेंगे बजट सत्र के बाधित 23 दिनों का वेतन

            संसद के बजट सत्र के बाधित 23 दिनों का वेतन और अन्य भत्ते नहीं लेंगे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित बीजेपी और एनडीए के सभी सांसद वेतन नहीं लेंगे. केंद्रीय संसदीय कार्यमंत्री अनंत कुमार ने जानकारी मीडिया को दी. अनंत ने कांग्रेस पर संसद के सत्र को बाधित करते हुए जनता के पैसे को बर्बाद करने का आरोप लगाया.
            नई दिल्लीः भारतीय जनता पार्टी और उसके नेतृत्व वाले एनडीए के सांसद बजट सत्र के 23 दिन का वेतन एवं भत्ता नहीं लेंगे. केंद्रीय संसदीय कार्य मंत्री अनंत कुमार ने बुधवार को सरकार की तरफ से जानकारी देते बताया कि एनडीए के सभी सांसद बजट सत्र के 23 दिनों का वेतन नहीं लेंगे जिसमें कांग्रेस और अन्य राजनीतिक दलों के विरोध प्रदर्शन के कारण संसद की कार्यवाही नहीं चल सकी थी.
         अनंत कुमार ने संसद के दोनों सदनों में हुए हंगामे और विरोध प्रदर्शनों के लिए कांग्रेस को जिम्मेदार ठहराते हुए कहा कि कांग्रेस लोकतंत्र विरोधी राजनीति कर रही है. अनंत ने आगे कहा, संसद में सत्र के दौरान कांग्रेस ने दोनों सदनों में सरकार के महत्वपूर्ण विधेयकों को पारित होने में अड़चने डाली और उनको पारित होने से रोका. कांग्रेस द्वारा ऐसा किया जाना देश के करदाताओं के धन की क्षति है.
          अनंत ने आगे कहा, ‘ये जनता का पैसा है. और सांसदों को जनता का काम करने के लिए चुना गया है. जब कोई काम हुआ ही नहीं तो हम कैसे लें. इसके चलते हमने 23 दिनों का पैसा नहीं लेने का फैसला किया है’. उन्होंने आगे कहा, ‘हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र भाई मोदी को लोकसभा चुनावों में मिले जनादेश के बाद कांग्रेस असहिष्णु हो गई है’.
         संसद के बजट सत्र का दूसरा हिस्सा शुक्रवार को समाप्त हो रहा है. इससे पहले की संसद कार्यवाही में कांग्रेस और आंध्र प्रदेश की पार्टियों और अन्य दलों के विरोध प्रदर्शन और हंगामें के चलते संसद का कामकाज ठपर रहा है. जिसके चलते सरकार को वित्त विधेयक भी बिना किसी बहस के जल्दबाजी में पास करवाना पड़ा है. इस वित्त विधेयक को बिना किसी बहस के पास करवाये जाने के कारण अब सांसदों का वेतन-भत्ता महंगाई के अनुसार खुद ही बढ़ जाया करेगा.

No comments:

Post a Comment