HelloDharNews

HelloDharNews Hindi news Website, Daily Public News, political, crime,filmy, Media News,Helth News

Breaking

Sunday, 30 August 2020

पुलिस अधीक्षक जिला धार आदित्य प्रताप सिंह और अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक देवेन्द्र पाटीदार ने पत्रकार वार्ता में अंधेकत्ल का किया पर्दाफाश

  पुलिस अधीक्षक जिला धार आदित्य प्रताप सिंह और अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक देवेन्द्र पाटीदार  ने पत्रकार वार्ता में अंधेकत्ल का किया पर्दाफाश 

25 अगस्त को पीथमपुर  मनमानी कालोनी स्थित एक कमरे में एक अज्ञात महिला की मिली थी लाश

मृतक महिला के पति ने उनकी एक साल की बच्ची को 2 लाख रूपये में बेच दिया, फिर पति व उसके भाई-भाभी तीनों ने मिलकर महिला के गला घोटकर की थी हत्या

संजय शर्मा  संपादक 

हैलो धार  पत्रिका

 

                धार /पीथमपुर - फरियादी इकरार पिता अब्दुल सतार निवासी निवासी महू जिला इन्दौर ने थाना पीथमपुर सेक्टर-1 पर आकर रिपोर्ट किया कि उसका मनमानी कालोनी सेक्टर-1 में एक मकान है, जो वह किराये पर चलाता है। उस मकान का कमरा नम्बर 03 उसने शिवम नामक एक व्यक्ति को दिनांक 19.08.2020 को किराये से दिया था, जिसमे शिवम, एक औरत व एक वर्ष की बच्ची किराये से रह रहे थे। दिनांक 25.08.20 को आसपास के किराये दारो ने बताया कि 03 नम्बर कमरे से बदबू आ रही है। फरियादी की रिपोट पर से थाना प्रभारी सेक्टर-1 श्री चन्द्रभान सिंह चडार व उनकी टीम मौके पर पहुची, जहा बंद कमरे को खोला गया तो एक डी कंपोस(5-6 दिन पुरानी लाश) महिला का शव मिला। घटना स्थल का श्री चड़ार एवं एफएसएल टीम व फिंगर प्रिन्ट टीम ने बारीकी से निरीक्षण किया मृत महिला का शव देखने से ही चल गया था कि मामला हत्या का है शव का पोस्ट मार्टम विधिवत सामुदायिक स्वास्थ केन्द्र पीथमपुर मे करवाया गया। तथा थाना सेक्टर- 1 में मर्ग क्रमांक 43/20 धारा 174 जाफौ का कायम कर जाँच मे लिया गया। पोस्ट मार्टम रिपोर्ट में डाक्टर साहब द्वारा गला घोंट कर हत्या करना बताया, जिस पर से तत्काल थाने पर अप क्रमांक 304/20 धारा 302 भादवि का प्रकरण अज्ञात के विरुद्ध पँजीबद्ध कर विवेचना मे लिया गया। 


                   थाना पीथमपुर सेक्टर-1 में अज्ञात महिला को ज्ञात कर हत्या का कारण व हत्या करने वाले आरोपियों की शीघ्र गिरफ्तारी सुनिश्चित करने हेतु पुलिस अधीक्षक जिला धार आदित्य प्रताप सिंह ने अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक धार  देवेन्द्र पाटीदार के निर्देशन में नगर पुलिस अधीक्षक तरूणेन्द्र सिंह बघेल व थाना प्रभारी सेक्टर-1 चन्द्रभान सिंह चडार को उचित निर्देश देकर कार्यवाही हेतु लगाया गया। 

                 थाना प्रभारी पीथमपुर सेक्टर-1 व उनकी टीम द्वारा इलेक्ट्रानिक मेनुअल व मुखबीर तंत्र का उपयोग कर इन्वेस्टीगेशन कार्य शुरू किया गया, जिसमें मकान मालिक इकरार से एक शिवम नाम का आधार कार्ड मिला, जो मकान मालिक ने मकान किराये पर देते हुए लिया था, जो प्रथम दृष्ट्या फर्जी होना पाया गया। पूछताछ में मकान मालिक ने बताया कि जब वह व्यक्ति किराये का कमरा लेने आया था, तब उसने मोबाईल नम्बर दिया था। 


                  पुलिस द्वारा उक्त मोबाइल नम्बर के आधार पर छोटू पिता सुखमन चैधरी निवासी ग्राम मनकोरा थाना रेरा को पकड़ा। जिसने पूछताछ में बताया कि इंन्द्रा उर्फ रूबी निवासी जरगुआ थाना रैपुरा जिला पन्ना से उसने भाग कर शादी की थी, तथा वह अपनी पत्नी इन्द्रा व एक साल की बच्ची परी के साथ पीथमपुर सहाबराव मराठा के मकान में किराये से रहे। दिनांक 19.08.2020 को मनमानी कालोनी में किराये के मकान में रहने चले गए थे। मैंने व मेरे बडे भाई प्रसान्दी उर्फ शिवम पिता सुखमन चौधरी व उसकी पत्नी दिपीका पति प्रसान्दी चौधरी निवासीयान ग्राम मनकोरा थाना रैपुरा जिला पन्ना हम तीनों ने मिलकर दिनांक 20.08.2020 को मेरी पत्नी इन्द्रा का गला घोटकर उसे मार दिया था। 

                थाना पीथमपुर सेक्टर-1 पुलिस ने प्रसान्दी व दिपीका को भी गिरफ्तार किया। जब तीनो से हत्या का कारण पूछा गया तो तीनो ने जुर्म स्वीकार करते हुए पुलिस को बताया कि मृतिका इन्द्रा की एक साल की बच्ची को बेचने का 2,00,000/- रू. में सौदा कर लिया था और बच्ची की मां इन्द्रा विरोध कर रही थी। इसीलिए हम तीनो ने मिलकर इन्द्रा का गला घोटकर उसे दिनांक 20.08.2020 को मार दिया था। बच्ची को खरीदने-बेचने के सौदे मे शामिल पांच लोगों को भी पुलिस द्वारा गिरफ्तार कर लिया है, जिनके नाम निम्नांनुसार है-

बच्ची बेचने के लिये हत्या करने वाले आरोपीगण

1. छोटू पिता सुखमन चौधरी 2. प्रसन्दी ऊर्फ अभी ऊर्फ शिवम पिता सुखमन चौधरी 3.दिपीका पति शिवम ऊर्फ प्रसन्दी 4 राधाबाई पति प्रताप सिंह परिहार 5.सागर बाई पति रुप नारायण 6.मीना पति महेश गौरवे 7. मानकुँअर पति अन्तर सिंह 8 मिथुन पिता अन्तर सिंह 9. सिकन्दर पिता गौरीलाल पौद्दार 10. पूनम पति सिकन्दर। 

         पांचो व्यक्तियों से बच्ची को दंपत्ती सिकन्दर पिता गौरीलाल पौद्दार एवं उसकी पत्नी पुनम पति सिकन्दर पौद्दार ने 2,00,000/- रू. देकर खरीदा था, जिसमें 1,80,000/- रू. दंपत्ती ने दिए थे। प्राप्त रूपयों में से 1,00,000/- रू. तीनों बेचने वाले तथा 80,000/- रू. पांचों मिडएटरो ने रख लिये है। पुलिस ने दंपती को भी गिरफ्तार कर उनके कब्जे से बच्ची को बरामद कर लिया है, जिसे चाईल्ड केयर युनिट को सौपने की प्रक्रिया में है। थाना पीथमपुर सेक्टर-01 में पंजीबद्ध प्रकरण मे धारा 370,467,468,470,478,201,120 बी 34 भादवि बढाई गई है। 

               प्रकरण में अब तक छः महिलाए एवं चार पुरुषो को गिरफ्तार किया गया है, जिनसे मानव दुर्व्यापार (मानव तस्करी) के संबंध में पुछताछ की जा रही है। संभवतः और भी कई मानव तस्करी के मामले उजागर होने की पूर्ण संभावना है। 


                 अज्ञात महिला को ज्ञात कर हत्या का कारण व हत्या करने वाले आरोपियों की शीघ्र गिरफ्तारी करने हेतु नगर पुलिस अधीक्षक महोदय पीथमपुर श्री तरुणेन्द्र सिंह बघेल के नेतृत्व में थाना प्रभारी पीथमपुर सेक्टर-01 चन्द्रभान सिंह चड़ार ,उनि हिना जोशी ,सउनि बाल कृष्ण मिश्रा, आर 463 सुरज तिवारी, आर 225 महेश यादव, आर 53 लोकेश शुक्ला, सायबर सेल धार की टीम गठित की गई थी, जिन्होने मात्र चार दिनों में मामले का पर्दाफाश किया है। पुलिस अधीक्षक  आदित्य प्रताप सिंह ने पुलिस टीम को पुरस्कृत करने की घोषणा कि गई है ।         


No comments:

Post a Comment