HelloDharNews

HelloDharNews Hindi news Website, Daily Public News, political, crime,filmy, Media News,Helth News

Breaking

Thursday, 26 March 2020

शिवराज सरकार के नए मंत्रिमंडल में सिंधिया समर्थक 10 मंत्री, भाजपा 16 सहित 2 निर्दलीय को मंत्री शपथ दिलाई जा सकती हैं

शिवराज सरकार के नए मंत्रिमंडल में सिंधिया समर्थक 10 मंत्री, भाजपा 16  सहित 2 निर्दलीय को मंत्री शपथ दिलाई जा सकती हैं

संजय शर्मा संपादक 
हैलो धार पत्रिका 
98934 - 75407 
             भोपाल - मध्यप्रदेश में एक लंबे घमासान के बाद सत्ता परिवर्तन हो गया हैं। कमलनाथ सरकार गिर गई। प्रदेश के नए मुख्यमंत्री के तौर पर चौथी बार शिवराज सिंह ने सीएम पद की शपथ ली। मुख्यमंत्री पद संभालते ही शिवराज एक्शन में आ गए हैं। हालांकि इस समय सीएम शिवराज पूरी तरह से कोरोना महामारी के संक्रमण को रोकने के लिए समर्पित हैं। लेकिन इसी बीच उनके सामने अनेकों चुनौतिय खड़ी हैं। 
बता दे कि कोरोना महामारी के बीच मंत्रिमंडल के विस्तार की भी सुगबुगाहट तेज हो गई हैं, लेकिन जिस तरह से बातें सामने आ रही है, उससे लगता नहीं कि मंत्रिमंडल का गठन करना शिवराज के लिए बहुत आसान काम नही होगा।

                दरअसल, मंत्रिमंडल में सिंधिया समर्थकों के 10 नाम सामने आ रहे हैं। जिनमें इमरती देवी सुमन प्रद्युम्न सिंह तोमर महेंद्र सिसोदिया गोविंद सिंह राजपूत तुलसीराम सिलावट और प्रभु राम चौधरी शामिल हैं। मालूम हो कि ये सब कमलनाथ सरकार में मंत्री रह चुके हैं।चुकी सिंधिया समर्थक विधायकों ने बीजेपी का साथ दिया, ऐसे में इनका मंत्री बनना लगभग तय माना जा रहा हैं। 
               इसके अलावा बिसाहू लाल सिंह, इंदल सिंह कंसाना, हरदीप सिंह डंग और राजवर्धन सिंह दत्तीगांव भी मंत्री बनने की शर्त पर ही भाजपा में शामिल हुए हैं यानी मंत्रिमंडल के संभावित 28 मंत्रियों में से पहले 10 स्थान तो सिंधिया समर्थकों के लिए रिजर्व हो गए।
जबकि चार निर्दलीय भी बीजेपी को इसलिए समर्थन दे रहे हैं कि वह उन्हें मंत्री बना दे। दो निर्दलीयों को भी मंत्री पद से नवाजा जा सकता है।
              इधर, खुद बीजेपी में कई दिग्गज नेता है जो मंत्री बनने की लाइन में लगे हुए हैं। बीजेपी की बात करे तो इसमें डॉ नरोत्तम मिश्रा, गोपाल भार्गव, भूपेंद्र सिंह, यशोधरा राजे सिंधिया, संजय पाठक, अरविंद भदोरिया,राजेन्द्र शुक्ल, विश्वास सारंग ,डॉ मोहन यादव , कमल पटेल,विजय शाह ,गौरीशंकर बिसेन , यशपाल सिंह सिसोदिया, चेतन्य कश्यप, रमेश मेंदोला,उषा ठाकुर,श्रीमती नीना विक्रम वर्मा, गायत्री राजे पंवार के अलावा कई दिग्गजों के नाम शामिल हैं।
            अगर योगी सरकार की तरह दो उप मुख्यमंत्री बनाए जाते है तो सबसे ऊपर नाम तुलसीराम सिलावट और नरोत्तम मिश्रा का होगा ,विधानसभा अध्यक्ष पद के लिए गोपाल भार्गव, जगदीश देवड़ा,बिसाहू लाल सिंह , गौरीशंकर बिसेन को बनाया जा सकता हैं।
              नई शिवराज सरकार में प्रदेश के सभी संभागों से मंत्री बनाने के साथ क्षत्रिय, ब्राह्मण, पिछड़े, अनुसूचित जाति और आदिवासी समाज को प्राथमिकता दी जाएगी।साथ ही अनुभवी और युवा चेहरों को भी मौका मिलेगा।
            ऐसे में शिवराज सिंह चौहान को मंत्रिमंडल के विस्तार में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता हैं। शिवराज मंत्रिमंडल में किसे रखेंगे और किसे छोड़ेंगे ये तो समय ही तय करेगा। लेकिन अब ये देखना बेहद दिलचस्प हो गया हैं

No comments:

Post a Comment