HelloDharNews

HelloDharNews Hindi news Website, Daily Public News, political, crime,filmy, Media News,Helth News

Breaking

Sunday, 1 September 2019

समाज में कलाकार के साथ छायाकार की भी आवश्यकता है - वन मंत्री उमंग सिंघार

समाज में कलाकार के साथ छायाकार की भी आवश्यकता है  -  वन मंत्री उमंग सिंघार 

फोटो प्रदर्शनी का किया गया आयोजन

संजय शर्मा संपादक 
हैलो -धार पत्रिका 
           धार -  1 सितम्बर 2019  प्रदेश के वन मंत्री  उमंग सिंघार ने रविवार को यहां मिलन महल में आयोजित समारोह में कहा कि जिस तरह से समाज को एक कलाकार की आवश्यकता है, उसी तरह से छायाकार की भी आवश्यकता होती है, क्योंकि छायाकार की भी हर क्षेत्र में महत्वपूर्ण भूमिका है। फोटोग्राफी एक व्यापक क्षेत्र है। उन्होंने कहा कि पर्यावरण के क्षेत्र में फोटोग्राफी के माध्यम से निश्चित रूप से एक बड़ी पहल की जा सकती है। पर्यावरण को सुरक्षित रखने और उसके संरक्षण के लिए भी यह फोटोग्राफी महत्वपूर्ण है। उन्होंने कहा कि इस तरह के आयोजन में मैं अपने स्तर पर पूर्ण सहयोग हमेशा करता रहूंगा। यह बात धार में जिला कैमरा एसोसिएशन डिजिटल आर्टिस्ट क्लब द्वारा पर्यावरण पर आधारित प्रथम राज्य स्तरीय छायाचित्र प्रतियोगिता के पुरस्कार वितरण समारोह में मुख्य अतिथि के तौर पर वन मंत्री  उमंग सिंघार ने कही। 
                 उन्होंने कहा कि पर्यावरण से लेकर अन्य विषय में इस तरह की पहल करना अपने आप में महत्वपूर्ण है। क्लब ने जो कदम उठाया है, वह सार्थक है। आने वाले समय में यह पहल काफी महत्वपूर्ण साबित होगी। उन्होंने कहा कि फोटोग्राफी को लेकर निश्चित रूप से यह एक सार्थक कवायद की गई है। पर्यावरण को लेकर चिंतन करना अब जरूरी हो गया है। एक और जहां जापान में लोग ऑक्सीजन की सिलेंडर की तैयारी कर रहे हैं तो ऐसी स्थिति में हमें अपने पर्यावरण के प्रति चिंतन करना होगा। हम अपनी आवश्यकताओं के लिए तेजी से पेड़ काट रहे हैं जो कि गलत है। उन्होंने कहा कि सदियों से मानव और वन्य जीव वन में साथ में रहा है, लेकिन अब संघर्ष की स्थिति निर्मित हो रही है। इस तरह के संघर्ष की स्थिति निर्मित नहीं होना चाहिए। पर्यावरण और वन संरक्षण की दिशा में भी आगे कदम उठाना होंगे। इस प्रतियोगिता में प्रदेश भर के विभिन्न जिलों के बड़ी संख्या में प्रतिभागियों ने भाग लिया। पुरस्कार प्राप्त करना एक अलग विषय है, लेकिन पर्यावरण पर सभी प्रतिभागियों ने जो अपनी फोटो सांझा की है। वह निश्चित रूप से पर्यावरण के प्रति जन-जागरूकता लाने के प्रयास महत्वपूर्ण साबित होगे। 
                        श्री सिंघार ने मां सरस्वती का पूजन कर विधिवत् कार्यक्रम का शुभारंभ किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता वरिष्ठ पत्रकार पंडित अशोक शास्त्री ने की। कार्यक्रम के प्रारंभ में कपिल मांडोले ने स्वागत भाषण दिया। क्लब के सदस्यों ने अतिथियों का स्वागत किया। जिला पुलिस अधीक्षक  आदित्य प्रताप सिंह ने अपने विशेष आतिथ्य उद्बोधन में कहा कि मैं भी फोटोग्राफी का शौकीन हूं। फोटोग्राफी ऐसी विधा है, जिससे कि एक सुकून मिलता है। अपर कलेक्टर  शैलेन्द्र सिंह सोलंकी तथा अमरदीप सोलंकी ने भी संबोधित किया। 
                     वरिष्ठ फोटोग्राफर  आनंद दीक्षित ने फोटोग्राफी की बारीकियों पर प्रकाश  डालते हुए कहा कि सीमित संसाधनों के माध्यम से भी फोटोग्राफी करके न केवल देश और प्रदेश में बल्कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भी नाम कमाया जा सकता है। उन्होंने आगे कहा कि अच्छे फोटोग्राफर की खूबी यह है कि जिस विषय पर वह फोटो खींचना चाह रहा है, उसके बारे में उसकी सोच महत्वपूर्ण है। साथ ही उसके बारे में उसकी सकारात्मकता भी एक महत्वपूर्ण स्थान रखती है। इन सब के माध्यम से एक अच्छा चित्र तैयार हो सकता है जो कि सबसे अलग एक फोटोग्राफर की पहचान बनाती है। 
विजेताओं की हुई घोषणा
                   इस मौके पर क्लब द्वारा विशेष रूप से पारदर्शिता के लिए निर्णायक के माध्यम से ही इसकी घोषणा करवाई गई। ताकि किसी भी तरह से इसमें पक्षपात न हो सके। निर्णायक धार पहुंचे और निर्णयको ने ही कार्यक्रम में प्रथम से लेकर जितने भी पुरस्कार थे, उनकी घोषणा की। सभी प्रतिभागियों ने एक से एक चित्र प्रस्तुत किए हैं, लेकिन जिन लोगों ने इसमें पुरस्कार नहीं जीता है, उसका मतलब यह नहीं है कि वे अच्छे फोटोग्राफर नहीं है बल्कि वह भी बेहतर फोटोग्राफर है। लेकिन पर्यावरण जैसे विषय पर सभी ने अच्छे फोटोग्राफ्स प्रस्तुत करके एक सार्थक पहल की है। इस अवसर पर वेबसाइड का वन मंत्री श्री सिंघार ने लोकापर्ण किया। 
यह रहे विजेता
                      21000 का प्रथम पुरस्कार देवास के  सौरभ दुबे ने जीता। 11 हजार रुपये का दूसरा पुरस्कार इंदौर के अवी जैन ने जीता। 5100 रुपये का तीसरा पुरस्कार देवास के  स्वप्निल गाइके ने जीता। इसके अलावा अन्य सात सांत्वना पुरस्कार में  कमल रावत, श्रीराम चौहान,  मनोज चौधरी,  जितेंद्र शर्मा, जीतू भदौरिया, फैजान खान, दिलीप भालेराव प्राप्त किया। पत्रकार अमरदीप सोलंकी वरिष्ठ छायाकार एवं प्रतियोगिता के निर्णायक वरिष्ठ फोटोग्राफर गुरदास दुआ, गिरीश किंगर, अखिल हार्डिया व तनवीर फारुखी, क्लब के संरक्षण  गिरिराज उपाध्याय उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन श्रीमती अरुणा बोड़ा ने किया। आभार  राजेश वाघेला ने व्यक्त किया।
फोटो प्रदर्शनी का किया गया आयोजन
                 इस अवसर पर वन्य जीव-जन्तुओं पर आधारित फोटो प्रदर्षनी का आयोजन भी किया गया। इसका अवलोकन वन मंत्री  उमंग सिंघार ने किया। इसमें मुख्य रूप से पुलिस विभाग के वरिष्ठ अधिकारी एडीजीपी श्री वरुण कपूर द्वारा भेजे गए फोटो को भी प्रदर्शनी में शामिल किया गया। जिनकी वन मंत्री श्री सिंघार ने सराहना भी की। वन मंत्री द्वारा जो फोटो खींचे गए थे, वह फोटो भी प्रदर्शनी में प्रदर्षित किए गए।

No comments:

Post a Comment