HelloDharNews

HelloDharNews Hindi news Website, Daily Public News, political, crime,filmy, Media News,Helth News

Breaking

Sunday, 25 February 2018

बहादूर बेटियों को लक्ष्योंमुखी यात्रा के लिए सौंपा ध्वज और अभिनंदन कर दी बिदाई

बहादूर बेटियों को लक्ष्योंमुखी यात्रा के लिए सौंपा ध्वज और अभिनंदन कर दी बिदाई
भोजशोध संस्थान धार ने किया साहसी बेटियाॅ का समारोह पूर्वक सम्मान 

    धार - यात्रा जीवन का एक महत्वपूर्ण आयाम है। साइकल से यात्रा युवाओं की विशेष पहचान रही है। सायकल यात्रा जब 25 राज्यों और 25000 किलोमीटर की हो और यात्री दो युवा बेटियाॅ हो तो समाज और राष्ट्र का ध्यान आकर्षित होना अवष्यंभावी है। पटना बिहार की हर्षा मिश्रा और झारखंड की सावित्री मुरमु बेहतर नागरिक और समानता आधारित समाज निर्माण के पवित्र उद्देष्य को लेकर साइकल यात्रा पर निकली है। एनसीसी की कैडेट महज 17 व 21 वर्ष उम्र की बहादूर बेटियाॅ अपने दृढ़ संकल्प के सहारे भारत भ्रमण के साहसिक अभियान का हिस्सा बन चुकी है। 
     सम्मान  हर्षा मिश्रा और सावित्री मुरमु का सम्मान भोजशोध संस्थान धार कार्यालय में किया गया। कार्यक्रम की मुख्य अतिथि जिला महिला सषक्तिकरण अधिकारी सुश्री भारती दांगी और नगर पालिका की मुख्य कार्यपालन अधिकारी डाॅ मधु सक्सेना थी। श्रेष्ठ नारी सम्मान के अन्र्तगत दोनों युवा बेटियों का शाल और पुष्पहार से सम्मान दोनों अधिकारी द्वय ने किया। दोनों अधिकरियों ने अपना स्वागत ना करवाया और अपने स्वागत को दोनों बेटियों को समर्पित किया तथा दोनों की यात्रा सफलता की कामना की। उन्होंने कहा कि इससे समाज में बेटियों का मान बढ़ेगा। 
     सौंपा ध्वज 13000 किलोमीटर की यात्रा के बाद धार में दोनों यात्रियों की सायकल पर अब राष्ट्रीय ध्वज भी लहरायेगा। सम्मान के बाद भोजशोध के निदेशक डाॅ दीपेन्द्र शर्मा, वरिष्ठ खिलाड़ी और बैंक प्रबन्धक  प्रदीप जोशी , कार्यक्रम अधिकारी श्रीमती चेतना राठौर ने उन्हें राष्ट्रीय ध्वज प्रदान किया और शुभकामनाओं के साथ धार से बिदाई दी। 
संस्मरण - अपने यात्रा संस्मरण में उन्होंने देश  को एक बेहतर देश  और लोगो को अच्छा नागरिक बताया। उन्होंने कहा कि जाने अनजाने कई नागरिकों ने उनकी मदद की है। कठिनाइयाॅ तो आती है पर सभी का अच्छा व्यवहार मुसीबतों को न्यूनतम करता रहा है। अभी तक उनकी यात्रा योजनानुसार ही चल रही है। कठिनाइयों और बुराई की ओर उनका ध्यान ही नहीं है। उनका ध्यान तो समाज की बेहतरी और अच्छे नागरिक निर्माण का लक्ष्य है। उनका विष्वास है कि तमाम विरोधाभासों के मध्य भी भारत एक बेहतर देश  है। उन्होंने सम्मान के लिए भोजशोध संस्थान और धार की जनता का आभार व्यक्त किया। 
इस अवसर पर संस्थान के पदाधिकारी और बड़ी संख्या में नागरिकगण उपस्थित थे। आरंभ में एनसीसी अधिकारी सुश्री नम्रता सावंत ने यात्रा की जानकारी प्रदान की। समारोह का संचालन कवि श्री दुर्गेश नागर ने किया। आभार पराग भौंसले ने व्यक्त किया। यह जानकारी अनिल पुजारी ने दी है।

No comments:

Post a Comment