HelloDharNews

HelloDharNews Hindi news Website, Daily Public News, political, crime,filmy, Media News,Helth News

Breaking

Wednesday, 6 May 2020

धार में स्व सहायता समूह ने बनाई पीपीई किट,संभागायुक्त आकाश त्रिपाठी ने सराहा

धार में स्व सहायता समूह ने बनाई पीपीई किट,संभागायुक्त आकाश  त्रिपाठी ने सराहा

संजय शर्मा संपादक 
हैलो  धार पत्रिका 
                   धार -  संभागायुक्त आकाश त्रिपाठी ने आज इंदौर संभाग के धार जिले में स्व सहायता समूह द्वारा बनाई जा रही पीपीई किट को देखा। उसकी गुणवत्ता के बारे में पूछताछ की और सराहना की।उल्लेखनीय है कि प्रतिदिन ऐसी एक सौ किट पुलिस कर्मियों को इन समूहों द्वारा दी जा रही है। संभागायुक्त श्री त्रिपाठी,आईजी विवेक शर्मा के साथ बुधवार को धार जिले के प्रवास पर थे। यहाॅ उन्होंने कंटेनमेंट क्षेत्र देखे। बाद में जिला पंचायत के सभागार में कलेक्टर श्रीकांत बनोठ, पुलिस अधीक्षक आदित्य प्रताप सिंह सहित अधिकारियों से कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए किए गए जिला प्रशासन के प्रयासों के बारे में चर्चा की। उन्होने कहा कि कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए जिले में गुणवत्तापूर्ण सर्वे को अपनाया जाये। लोगों में जागरूकता लाई जाये जिससे व्यक्ति स्वयं आगे आकर अपनी कान्टेक्ट हिस्ट्री बताये तथा अपनी जांच कराने के लिए जागरूक रहे।
                    बैठक में कलेक्टर श्री बनोठ द्वारा जिले की कोरोना संक्रमण की स्थिति और फैलाव रोकने के लिए किए गए कार्यों के संबंध में संभागायुक्त को अवगत कराया गया। संभागायुक्त ने बैठक में जिले में दवाईयों की उपलब्धता के संबंध में, स्वास्थ्य सेवाएं पीपीई किट, मास्क की उपलब्धता विषयों पर अधिकारियों से जानकारी प्राप्त की। बैठक में प्रवासी मजदूरों के लिए की जा रही व्यवस्था की समीक्षा, दुकानों,मेडिकल स्टोर्स खोले जाने,होम डिलेवरी के माध्यम से लोेगों तक पहुंच सेवाएं की समीक्षा भी की गई।
                   संभागायुक्त श्री आकाश त्रिपाठी ने स्वास्थ्य विभाग को निर्देश दिये कि सेंपलिंग पूर्ण तैयारी के साथ जांच हेतु लेबोरेटरी में भेजना सुनिश्चित करें, जिससे की सेंपल रिजेक्ट होने की संभावनाएं कम रहे। उन्होंने कलेक्टर से कहा कि जिले की मॉनीटरिंग निरंतर करते रहे तथा स्थिति पर नजर बनाये रखे। उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण से होने वाली मृत्युओं की समीक्षा के दौरान पाया गया है कि इसमें अधिक आयु के मरीजों की संख्या अधिक है, क्योंकि इनकी रोग प्रतिरोधक क्षमता कम होती है। अतर: इस तरह के मरीजों के उपचार के समय विशेष ध्यान रखना होगा। 
                  संक्रमित मरीजों के उपचार में स्वास्थ्य विभाग की गाइड लाइन का पालन किया जाये। उन्होंने कहा कि कोरोना के कन्फर्म व संदिग्ध मरीजों की मृत्यु होने की दशा में संबंधित मरीजों के अंतिम संस्कार के समय संक्रमण से बचाव के लिए सभी आवश्यक उपाय किए जाएं। उन्होंने कहा कि कोविड केयर वार्ड व कोरोना संदिग्ध वार्ड के मेडिकल वेस्ट के डिस्पोजल के लिए भी निर्धारित प्रक्रिया का पालन संख्ती से किया जाये, ताकि कोरोना संक्रमण का खतरा न हो।
                   कलेक्टर ने बैठक में बताया कि जिले में आवागमन पर नजर रखी जा रही है। कन्टेन्मेंट क्षेत्र में स्वास्थ्य विभाग के दल नियमित रूप से सर्वे कर रहे है। जिले में नियंत्रण कक्ष कार्य कर रहा है। बाहर से आये मजदूरों को उनके जिलों तक पहुंचाने के लिए बसों की व्यवस्था भी की गई है।

No comments:

Post a Comment