HelloDharNews

HelloDharNews Hindi news Website, Daily Public News, political, crime,filmy, Media News,Helth News

Breaking

Tuesday, 3 December 2019

लोक शिक्षण आयुक्त श्रीमती कियावत की अध्यक्षता में संभागीय समीक्षा सह संवाद कार्यक्रम सम्पन्न

लोक शिक्षण आयुक्त श्रीमती कियावत की अध्यक्षता में संभागीय समीक्षा सह संवाद कार्यक्रम सम्पन्न
 

धार, बडवानी तथा अलीराजपुर जिले के प्राचार्य हुए शामिल

संजय शर्मा संपादक 
हैलो  धार पत्रिका 
           धार -  क्या कोई भी माता-पिता चाहेंगे कि उनके बच्चे संस्कारी ना बने, अनपढ़ रह जाएं नहीं ना, शिक्षा विभाग में तमाम इंफ्रास्ट्रक्चर और दीगर सुविधाएं उपलब्ध है फिर भी परिणाम अपेक्षा अनुरूप नहीं दिखाई पड़ रहा है। इसी के मद्देनजर लोक शिक्षण आयुक्त श्रीमती जयश्री कियावत शिक्षा विभाग के मैदानी अमले के साथ समीक्षा बैठक करने में जुटी हैं श्रीमती कियावत का कहना है की हमारा उद्देश्य ना केवल शिक्षकों में मोटिवेशन पैदा करना है बल्कि बच्चों में पढ़ाई के अलावा खेल कूद और उनकी रुचि अनुसार एक्स्ट्रा करिकुलर एक्टिविटी करवानी है। इसी सिलसिले में स्थानीय पीजी कॉलेज के ऑडिटोरियम में लोक शिक्षण आयुक्त श्रीमती कियावत ने धार, बड़वानी, अलीराजपुर जिलों के शिक्षकों से चर्चा की।
                 उन्होने कहा कि बच्चो की नींव को मजबूत करे जिससे वे परीक्षा में अच्छा परिणाम दे सके। प्राचार्य इस बात का ध्यान दे कि बच्चो को अंग्रेजी, गणित तथा विज्ञान के विषयों के शिक्षकों द्वारा बेहतर तरीके से पढ़ाया जाऐं और प्रयास करे की रिजल्ट 100 प्रतिशत रहे। जिलों के 30 प्रतिशत वाले स्कूलों पर विशेष ध्यान रखे साथ ही प्राचार्य त्रैमासिक परीक्षा में मूल्यांकनकर्ता द्वारा जो कॉपियों का मूल्यांकन किया गया है उन्हे भी देखे। उन्होने कहा कि बच्चों के पालकों के साथ भी सतत संपर्क बनाऐ रखे और बच्चों को शिक्षा और खेलकूद के लिए मोटीवेट करे।
           जिन प्राचार्य का विषय गणित, अंग्रेजी तथा विज्ञान है वे स्वयं भी कक्षाओं में सतत कक्षाऐं ले जिससे इन विषयो में बच्चो को इन विषयो में परेशानी न आऐ। उन्होने ब्रिज कोर्स, रमेडियल कक्षाओं की जानकारी ली और निर्देश दिये कि रेमेडियल कक्षाओं के लिए शिक्षको को प्रतिमाह एक दिवस का प्रशिक्षण दिया जाए। जिन बच्चो का परिणाम अच्छा नही आता है उन्हे प्रार्यवेट न घोषित करे। बल्कि उन बच्चो पर अधिक ध्यान देकर उनके शिक्षण में सुधार लाऐ। 
                         श्रीमती कियावत ने कहा कि जिस स्कूल की लीडरशीप अच्छी होती है वहा के परिणाम भी अच्छे आते है। जिन स्कूलो में बच्चो की उपस्थित कम होती है वहा के बच्चो को परिणाम कम आता है। इसलिए प्रयास करे की बच्चे कक्षा में नियमित रूप से उपस्थित रहे। 
                        इस अवसर पर कलेक्टर  श्रीकांत बनोठ ने कहा कि बच्चे हमार देश का भविष्य है। उनकी शिक्षा में सुधार के लिए हर संभव प्रयास किये जाऐ। जिस स्कूल में शिक्षक बच्चो को मोटीवेशन अच्छा करते है वहा के परिणाम में सुधार आता है। प्राचार्य इस ट्रेनिंग का अच्छा उपयोग करे और यहा से जाकर अपने स्कूल के शिक्षको बच्चो को मोटीवेशन के लिए प्रेरित करे। हमारे स्कूल के बच्चे सफल होकर बाहर जा रहे है। उन्हे शिक्षा के साथ-साथ बच्चो को अन्य गतिविधियों के लिए भी प्रेरित करे। 
समीक्षा बैठक में शाला प्रबंधन, एक शाला एक परिसर, मिशन 1000, उमंग मॉड्यूल , जीवन कौशल शिक्षा, यूथ क्लब ओजस पर विस्तार से समीक्षा की गई और अधिकारियों को आवष्यक निर्देश दिये गये। 
                      इस अवसर पर लोक शिक्षण संचालक  के. के. द्विवेदी, लोक शिक्षण अपर संचालक सुश्री कामना आचार्य,  दिनेश कुशवाह, सहायक आयुक्त जनजातीय कार्य विभाग  ब्रजेशचंद्र पांडे, जिला शिक्षा अधिकारी  मंगलेश व्यास सहित बडी संख्या में धार, बडवानी तथा अलीराजपुर के प्राचार्य मौजूद थे। 

No comments:

Post a Comment