HelloDharNews

HelloDharNews Hindi news Website, Daily Public News, political, crime,filmy, Media News,Helth News

Breaking

Friday, 25 October 2019

प्रतिस्पर्धा में स्वयं को खड़ा रखना ही ख़ुद एक पुरस्कार - पर्यटन मंत्री हनी बघेल

प्रतिस्पर्धा में स्वयं को खड़ा रखना ही ख़ुद एक पुरस्कार - पर्यटन मंत्री हनी बघेल

शालेय राज्य तेंग सुडो स्पर्धा का समापन

संजय शर्मा संपादक 
हैलो धार पत्रिका 
             कुक्षी - खेल जीवन को मनोरंजन के साथ आनंद प्रदान करते हैं । शरीर को स्फूर्त बनाकर रखते हैं । पारम्परिक खेलों में शारीरिक स्वस्थता के साथ संस्कृति की सुगंध आती है । आत्मरक्षा के लिए तेंग सू डो जैसे खेलों को बढ़ावा देने की आवश्यकता है । प्रतिभाओं को हाथ आये अवसर को भुनाने से नहीं चूकना चाहिए । किसी भी प्रतियोगिता में स्वयं की भागीदारी करना भी एक पुरस्कार ही है। उक्त विचार जमुनादेवी पब्लिक स्कूल सिलकुआ कुक्षी में आयोजित चार दिवसीय शालेय राज्य तेंग सू डो प्रतिस्पर्धा के समापन अवसर पर मध्यप्रदेश शासन के नर्मदा घाटी विकास एवं पर्यटन मंत्री सुरेन्द्रसिंह बघेल हनी ने मुख्यअतिथि के रूप में पुरस्कार वितरण करते हुए व्यक्त किए । 
                   इस अवसर पर जिला कलेक्टर धार श्रीकांत बनोठ ने कहा कि खेल शिक्षा का एक अनिवार्य अंग है । खेल भावना से आपस में भाईचारे का एक नया रिश्ता स्थापित होता है । कार्यक्रम के सभापति धार जिला पत्रकार संघ के अध्यक्ष पं. छोटू शास्त्री ने कहा कि विद्यार्थी जीवन में खेल अनुशासन के साथ एकाग्रता जैसे सद्गुणों को विकसित करने में सहायक होते हैं । कार्यक्रम में विशेष अतिथि के रूप में समाजसेवी रामेश्वर पाटीदार व अधिवक्ता अकरम खान थे । अतिथियों का गौरव पुष्पों ,  पुष्पहारों व प्रतीक चिह्न भेंट कर  जमुनादेवी पब्लिक स्कूल के संचालक जावेद कुरैशी व  प्राचार्य शबाना कुरैशी ने स्वागत किया ।
               कार्यक्रम में सुभाष मुकाती , राधेश्याम जिराती , अब्दुल्ला बोहरा , आनंद पाटीदार , बालकृष्ण परसाई , कैलाश गुप्ता , एसडीएम बी एस कलेश , प्राचार्य डी एस बोंदड़ , बीईओ महेश चतुर्वेदी , टीआई के एस पंवार सहित अधिकारी- कर्मचारी , पत्रकारगण , गणमान्य नागरिक , शिक्षक छात्र-छात्राएं आदि मौजूद थे । प्रतिवेदन व जानकारी मीडिया प्रभारी भूपेन्द्र वर्मा के दी । जमुनादेवी पब्लिक स्कूल के विद्यार्थियों ने गणेश वंदना व आकर्षक कालबेलिया नृत्य प्रस्तुत किया । पोस्ट मेट्रिक छात्रावास के विद्यार्थियों ने आदिवासी लोकनृत्य प्रस्तुत किया ।  सरस्वती वंदना व स्वागत गीत छात्राओं सरिता अलका व प्रिया ने प्रस्तुत किये । जिला क्रीड़ा अधिकारी पुरुषोत्तम दुबे व राधेश्याम गढ़वाल , पीटीआई जाकिर खान सुमित्रा भावसार भंवरसिंह परिहार आदि ने अतिथियों का स्वागत किया । 
                 प्रतिस्पर्धा में 8 संभागों के 14 , 17 व 19 वर्ष आयु समूह के  356 खिलाड़ियों व 58 कोचेस ने भाग लिया । 48 खिलाड़ियों का चयन राष्ट्रीय शालेय स्पर्धा दिल्ली के लिए हुआ । 14 वर्ष बालक व बालिका  वर्ग में प्रथम इंदौर व द्वितीय उज्जैन रहा । 17 वर्ष आयु समूह के बालक व  बालिका वर्ग में इंदौर प्रथम व बालक वर्ग में उज्जैन व आदिवासी विकास विभाग द्वितीय रहा ।19 वर्ष आयु समूह में बालक बालिका वर्ग में इंदौर प्रथम व भोपाल तथा आदिवासी विकास विभाग  द्वितीय रहा । ओवर आल चैंपियनशिप में इंदौर ने 21 स्वर्ण पदक 16 रजत पदक व 3 कांस्य पदक प्राप्त कर प्रथम उज्जैन ने 8 स्वर्ण 6 रजत व 22 कांस्य पदक प्राप्त कर दूसरा तथा आदिवासी विकास संभाग ने 7 स्वर्ण 3 रजत व 16 कांस्य पदक जीत कर तीसरा स्थान प्राप्त किया । जनरल मैनेजर  कोचेस व सभी पीटीआई को प्रतीक चिह्न दिये गये । 
                          मंत्री हनी बघेल ने ध्वज अवरोहण व प्रतिस्पर्धा के समापन की घोषणा की व यूनिफार्म किट वितरित किए । संचालन मनोज साधु ने किया व आभार मध्यप्रदेश तेंग सू डो एसोसिएशन के सचिव संजय पंवार ने व्यक्त किया । आयोजन की व्यवस्था व सफलता की रीवा संभाग के खेल प्रबंधक धर्मेन्द्र पांडेय सहित सभी खेल अधिकारियों ने मुक्तकंठ से प्रशंसा की ।

No comments:

Post a Comment