HelloDharNews

HelloDharNews Hindi news Website, Daily Public News, political, crime,filmy, Media News,Helth News

Breaking

Wednesday, 17 July 2019

आपदा प्रबंधन हेतु तहसील न्यायालय सरदारपुर में जागरूकता शिविर एवं माॅक-ड्रिल

आपदा प्रबंधन हेतु तहसील न्यायालय सरदारपुर में जागरूकता शिविर एवं माॅक-ड्रिल 

 संजय शर्मा 
हैलो धार पत्रिका 
        धार/ सरदारपुर - आपदा अर्थात अनिष्चित विपत्ति य जब प्रकृति असंतुलन की स्थिति में होती है, तब आपदाऐं आती हैं। जिसके कारण विकास एवं प्रकृति बाधक होती है। वस्तुतः आपदा 02 तरह की होती है - प्राकृतिक व मानवजनित।  
           प्राकृतिक आपदाओं जैसे बाढ़, भूकंप, सूखा, सुनामी आदि पर हमारा नियंत्रण संभव नहीं है। किन्तु मानवजनित आपदाओं के संबंध में हम कुछ विशेष रोकथाम उपाय अपनाते हुवे, आपदाओं को होने से रोक सकते है। आपदा प्रबंधन दो प्रकार से किया जाता है, आपदा से पूर्व एवं आपदा के पश्चात्। इसी संदर्भ में तहसील न्यायालय परिसर सरदारपुर में दिनांक 16 जुलाई, 2019 को तहसील न्यायालय के समस्त न्यायाधीषगण, अभिभाषक संघ, पक्षकारगणों के मध्य आपदा प्रबंधन के संबंध में विधिक साक्षरता शिविर एवं माॅक-ड्रिल का आयोजन जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, धार के तत्वाधान में किया गया।
                 उक्त कार्यक्रम में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, धार के सचिव,  राजाराम बड़ोदिया, मुख्य अतिथि के रूप मे उपस्थित रहे। साथ ही तहसील अभिभाष संघ के अध्यक्ष,  आर.सी. शर्मा, डाॅ. एम.एल. जैन, नगरपालिका की ओर से चंद्रकांत जैन एवं विद्युत विभाग की ओर से कनिष्ठ अभियंता, भारत निहारता द्वारा आपदा प्रबंधन हेतु किये जाने वाले उपायो के बारे में विस्तृत जानकारी प्रदान की गई। नगरपालिका द्वारा आगजनी के लिए माॅक-ड्रिल किया गया, जिसे तहसील सरदारपुर के समस्त ग्रामीणजनों ने जिज्ञासापूर्वक देखा व समझा। 
             उक्त कार्यक्रम में न्यायालय परिसर के अंदर आग से उत्पन्न होने वाली आपदा की रोकथाम हेतु आपदा प्रबंधन की उक्त टीम द्वारा अपने-अपने क्षेत्र के विषयों में समस्त श्रोताओं को उपायो के बारे में बताया गया। तहसील विधिक सेवा समिति के अध्यक्ष  मसूद अरसद खान, द्वितीय अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश, सरदारपुर द्वारा आपदा प्रबंधन का न्यायालय परिसर में महत्वपूर्ण भूमिका को समझाया गया।  अरबिंद कुमार जैन, प्रथम अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश, सरदारपुर द्वारा उक्त कार्यक्रम का आभार प्रदर्षन किया गया। कार्यक्रम का संचालन जिला विधिक सहायता अधिकारी, श्रीमती रेखा द्विवेदी, द्वारा किया गया। साथ ही कार्यक्रम में  मनोज कुमार राठी, व्यवहार न्यायाधीश वर्ग-1, सरदारपुर  अभिजीत सिंह वास्कले, व्यवहार न्यायाधीश वर्ग-2 एवं सुश्री प्रियंका रतौनिया, व्यवहार न्यायाधीश वर्ग-2 सरदारपुर उपस्थित रहे। 

No comments:

Post a Comment