HelloDharNews

HelloDharNews Hindi news Website, Daily Public News, political, crime,filmy, Media News,Helth News

Breaking

Monday, 4 February 2019

निर्माण कार्यो की गुणवत्ता अच्छी हो इसके लिए सुनिष्चित करे - प्रभारी मंत्री डॉ साधौं

निर्माण कार्यो की गुणवत्ता अच्छी हो  इसके लिए सुनिष्चित करे - प्रभारी मंत्री डॉ साधौं

जय किसान फसल ऋण माफी योजना के तहत पात्र किसानों को लाभान्वित करने के निर्देश 
संजय शर्मा 
हैलो -धार पत्रिका  
       धार, 4 फरवरी 2019  प्रदेश  की चिकित्सा शिक्षा, आयुष एवं संस्कृति एवं जिले की प्रभारी मंत्री डाॅ विजयलक्ष्मी साधौं ने सोमवार को यहाॅं जिला पंचायत सभाकक्ष में जिला योजना समिति की बैठक ली। डॉ  साधौं ने इस बैठक को सम्बोधित करते हुए कहा कि जनता द्वारा चुनी हुई सरकार होने से हमारा दायित्व और अधिक बढ़ जाता है। हम जनता के सेवक है। कार्यपालिका और विधायिका मिलकर काम करेंगे, तो जो सबसे गरीब है, उन लोगों को इसका लाभ मिलेगा। शासन की भी यही मंशा  है कि सरकार की योजनाओं और कार्यक्रमों का निचले स्तर के गरीब लोगों को मिले। डॉ . साधौं ने कहा कि वचन पत्र में जो वायदें किए गए है, हम सब मिलकर काम करेंगे, तो उसका अच्छा परिणाम सामने आऐंगा। धार ऐतिहासिक और पुरातत्वीय जिला है, प्रदेश  में इस जिले को हर क्षेत्र में अग्रणी रहे, ऐसे प्रयास किए जाऐंगे। 
           प्रभारी मंत्री डॉ . साधौं ने इस बैठक में मध्यप्रदेश  पष्चिम क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के अंतर्गत संचालित मुख्यमंत्री स्थाई कृषि पंप कनेक्षन योजना, सरल बिजली बिल योजना, मुख्यमंत्री बकाया बिजली बिल माफी योजना, प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर सौभाग्य योजना, एकीकृत ऊर्जा विकास योजना, दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना, एस.एस.टी.डी. विभागीय योजना की सघन समीक्षा की और इन योजनाओं के अंतर्गत स्वीकृत कार्यो को समय सीमा में पूर्ण करने के निर्देश  दिए। डा. साधौं ने निर्देश  दिए है कि शहरों से लगे गाॅंवों को आवासीय घोषित कराएं, ताकि योजनाओं का लाभ ग्रामीणों को मिल सके। स्वीकृत कार्यो की गुणवत्ता नियंत्रण के लिए पूरी कोषिष की जाए। इसमें किसी भी प्रकार की लापरवाही न की जाएं।
          डॉ  साधौं ने अधिकारियों से कहा कि विधायकों तथा अन्य जनप्रतिनिधियों द्वारा बताई गई समस्याओं का तत्काल निराकरण करे, यदि तत्काल समस्या का समाधान न हो सके, तो 10 दिन में समस्या का समाधान सुनिष्चित करे। वे पूरी जवाबदेही के साथ कार्य करे, ताकि लोगों को इसका लाभ मिल सके। प्रभारी मंत्री डॉ . साधौं ने एकीकृत ऊर्जा विकास योजना की प्रगति की समीक्षा की और इस योजना के अंतर्गत छूटे हुए गाॅंवों, मजरा-टोलांें में विद्युतीकरण करने के लिए प्लान तैयार करने के निर्देश  दिए। साथ ही इस समिति के माध्यम से इसका प्रस्ताव शासन को भेजा जाएं। डॉ  साधौं ने योजना के अंतर्गत ट्रांसफारमर परिवहन की राशि  के भुगतान की कार्यवाही तत्काल की जावे। 
         प्रभारी मंत्री डॉ . साधौं ने जिले में जय किसान फसल ऋण माफी योजना की प्रगति की विस्तार से समीक्षा की और कृषि विभाग तथा उससे जुड़े हुए विभागों के जिला अधिकारियों को निर्देष दिए है कि वे इस योजना का लाभ पात्र किसानों को दे तथा कही पर भी फर्जी की शिकायत मिलने पर तत्काल जाॅंच करे और जाॅंच में शिकायत सत्य पाए जाने पर उनके विरूद्ध कठौर कार्यवाही की जावें। साथ ही इन अधिकारियों को निर्देश  दिए है कि वे क्षेत्र में समय-समय पर भ्रमण करे और योजना का प्रभावी क्रियान्वयन हो सुनिष्चित करंे। इस योजना की सम्पूर्ण जानकारी विधायकों तथा अन्य जनप्रतिनिधियों को भी उपलब्ध कराई जावे। उन्होने भावांतर भुगतान योजना के तहत लहसन, प्याज व चना की राषि का भुगतान की समीक्षा की और अधिकारियों को निर्देश  दिए है कि जिन किसानों को राशि  का भुगतान नही हुआ है, उन्हें राशि  का भुगतान के लिए आवंटन के लिए कार्यवाही की जावे और आवंटन प्राप्त होने पर इन किसानों को राषि का भुगतान सुनिष्चित करे। उन्होने जिला खनिज प्रतिष्ठान मद के कार्यो की समीक्षा की और जनप्रतिनिधियों से प्रस्ताव प्राप्त करने के निर्देश  दिए। उन्होने लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के हेण्डपम्प तथा नलजल योजनाओं की समीक्षा की और  आगामी ग्रीष्मऋतु के लिए पेयजल व्यवस्था सुनिष्चित करने के लिए अभी से कार्ययोजना तैयार करने के निर्देश  दिए, ताकि गर्मी के मौसम में आमजनता को इसका लाभ मिल सके। उन्होने फ्लोराईड प्रभावित गाॅंवों की जानकारी ली और आवष्यक निर्देश  दिए। साथ ही नलजल योजना के अंतर्गत जिन गाॅंवों में टंकियों का निर्माण कार्य पूर्ण हो चुका है, उन गाॅंवों में नल योजना चालु करें, ताकि ग्रामीणों को शासन की योजनाओं का लाभ प्राप्त हो सके।
          कलेक्टर  दीपक सिंह ने लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के कार्यपालन अधिकारियों को निर्देश  दिए है कि वे आगामी ग्रीष्मऋतु को देखते हुए पेयजल के लिए विधायक, जिला पंचायत के अध्यक्ष तथा अन्य जनप्रतिनिधियों से प्रस्ताव प्राप्त कर पूरक सूची तैयार करे। 
         इस बैठक में प्रदेश  के नर्मदा घाटी विकास एवं पर्यटन मंत्री  सुरेन्द्र सिंह बघेल, बदनावर विधानसभा क्षेत्र के विधायक  राजवर्धनसिंह दत्तीगांव, सरदारपुर विधायक  प्रताप ग्रेवाल, धरमपुरी विधायक  पाॅंचीलाल मेड़ा, मनावर विधायक डॉ  हिरालाल अवाला, धार विधायक श्रीमती नीना-विक्रम वर्मा, जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती मालती-मोहन पटेल, पुलिस अधीक्षक  बीरेन्द्र कुमार सिंह, वन मण्डलाधिकारी  सतेन्द्र कुमार सागर, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत  आर.के. चौधरी, जिला योजना अधिकारी  के.एल. रावत, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व धार  वीरेन्द्र कटारे, विभिन्न विभागों के जिला अण्धिकारी, जिला योजना समिति के सदस्यगण उपस्थित थे।

No comments:

Post a Comment