HelloDharNews

HelloDharNews Hindi news Website, Daily Public News, political, crime,filmy, Media News,Helth News

Breaking

Friday, 16 November 2018

बीजेपी ने शीतकालीन सत्र के लिए सांसदों को जारी किया व्हिप, क्या राम मंदिर को लेकर हो रही है तैयारी ?

बीजेपी ने शीतकालीन सत्र के लिए सांसदों को जारी किया व्हिप, क्या राम मंदिर को लेकर हो रही है तैयारी ?

बीजेपी ने शीतकालीन सत्र के दौरान सभी सांसदों को 11 दिसम्बर से 9 जनवरी तक दिल्ली में रहने और दिल्ली से बाहर के कार्यक्रम न बनाने की व्हिप जारी की है.
संजय शर्मा 
हैलो -धार 
          नई दिल्ली-  बीजेपी ने शीतकालीन सत्र के लिए सांसदों को व्हिप जारी किया है. बीजेपी ने शीतकालीन सत्र के दौरान सभी सांसदों को 11 दिसम्बर से 9 जनवरी तक दिल्ली में रहने और दिल्ली से बाहर के कार्यक्रम न बनाने की व्हिप जारी की है. पार्टी के व्हिप जारी किये जाने से इस बात पर चर्चा तेज हो गई है कि क्या सरकार राम मंदिर को लेकर कोई तैयारी कर रही है. सूत्रों के मुताबिक सरकार राममंदिर निर्माण का रास्ता प्रशस्त करने वाला विधेयक लाने की संभावनाएं भी टटोल रही है.
         बता दें कि केंद्र सरकार पर राम मंदिर निर्माण के लिए चौतरफा दवाब बनाया जा रहा है. संतसमाज से लेकर हिंदूवादी संगठन तक राम के नाम पर हुंकार भर रहे हैं. केंद्र सरकार से मांग की जा रही है कि वह अध्यादेश लाकर राम मंदिर बनाए.
       आरएसएस 25 नवंबर को अयोध्या में जनाग्रह रैली करने वाली है तो वहीं शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे भी राम मंदिर निर्माण मुद्दे पर जोर देने के लिए अयोध्या पहुंच रहे हैं. ऐसे में चौतरफा दवाब में केंद्र की मोदी सरकार इस शीतकालीन सत्र में कोई बड़ा फैसला ले सकती है.
         विश्व हिंदू परिषद का कहना है कि मुश्किल सवाल विद्यार्थी बाद में हल करता है और पीएम मोदी भी राम भक्त हैं. वह भी आखिर में यह विषय हल करेंगे. इसी बीच बीजेपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्री ने शुक्रवार को कहा कि राममंदिर बीजेपी के शासन में ही बनेगा. उन्होंने कहा, "हम अयोध्या में संवैधानिक तरीके से भव्य राममंदिर के निर्माण के लिए प्रतिबद्ध हैं. हम अयोध्या में राममंदिर हम अवश्य बनवायेंगे."
        क्या बीजेपी की अगुवाई वाली नरेंद्र मोदी सरकार अयोध्या में राममंदिर निर्माण का मार्ग प्रशस्त करने के लिए संसद में विधेयक पेश करेगी? इस सवाल पर पात्रा ने कहा, "मैं बतौर बीजेपी प्रवक्ता कोई टिप्पणी नहीं कर सकता कि इस विषय (राम मंदिर निर्माण) में संसद में कोई विधेयक आयेगा या नहीं. संसद में विधेयक पेश करना सांसदों के अधिकारक्षेत्र का मामला है."
        साथ ही उन्होंने आरोप लगाया कि कांग्रेस, समाजवादी पार्टी, बहुजन समाज पार्टी, ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन जैसी पार्टियां अयोध्या में राममंदिर के निर्माण के खिलाफ हैं. पात्रा ने यह आरोप भी लगाया कि राममंदिर मामले में आगे बढ़ रही अदालती प्रक्रिया में बीजेपी के विपक्षी दल बाधा उत्पन्न कर रहे हैं. बता दें कि संसद का शीतकालीन सत्र 11 दिसंबर से शुरू हो रहा है और यह सत्र 8 जनवरी तक चलेगा. 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव से पहले यह आखिरी पूरण सत्र होगा.

No comments:

Post a Comment